समाचार और घटनाक्रम

खान मंत्रालय ने गवेषण करने के लिए एमईसीएल का 30 खनिज ब्लाॅक आवंटित किए

प्राइवेट गवेषण एजेन्सियों में विश्वास बढ़ाने के लिए खान मंत्रालय ने गवेषण करने के लिए मिनरल एक्सप्लोरेशन कार्पोरेशन लिमिटेड (एमईसीएल) का 30 खनिज ब्लाॅक आवंटित किए हैं।

एमईसीएल को धनराशि देश में गवेषण बढ़ाने के लिए स्थापित नेशनल मिनरल एक्सप्लोरेशन ट्रस्ट (एनएमईटी) में से प्रदान की जाएगी।

खान सचिव बलविन्दर कुमार ने इकोनाॅमिक टाइम्स को बताया कि सरकार को प्रतिवर्ष रू. 500 करोड़ प्राप्त होने की उम्मीद है जो एनएमईटी के लिए खनिकों पर 2 प्रतिशत राॅयल्टी लगाकर प्राप्त किया जाएगा। सरकार ने हाल ही में एक राष्ट्रीय खनिज गवेषण नीति का अनुमोदन किया है और गवेषणकर्ताओं को 100 खनन एकड़ क्षेत्रफल प्रदान करने का प्रस्ताव किया है।

कुमार ने बताया कि यदि एमईसीएल द्वारा गवेषण उपरांत खनिज निचय प्रमाणित हो जाते हैं, तो ये ब्लाॅक नीलामी के लिए राज्यों को सौंप दिए जाएंगे। नीलामी से आय प्राप्त हाने के बाद एमईसीएल को दी गई निधि एनएमईटी को लौटा दी जाएगी।


© Copy right MECL 2014. All Rights Reserved.